भारत की टी20 में साउथ अफ्रीका के साथ सबसे बड़ी हार

टी20 सीरीज के तीसरे मुकाबले में साउथ अफ्रीका के खिलाफ भारतीय क्रिकेट टीम को हार का सामना करना पड़ा।

भारत की टी20 में साउथ अफ्रीका के साथ सबसे बड़ी हार
 पिछले 13 सालों में भारत की टी20 में साउथ अफ्रीका के साथ सबसे बड़ी हार हुई है

टी20 सीरीज के तीसरे मुकाबले में साउथ अफ्रीका के खिलाफ भारतीय क्रिकेट टीम को हार का सामना करना पड़ा। बैंगलुरू टी20 में जीत के साथ ही मेहमान टीम ने सीरीज 1-1 से बराबर करने में कामयाबी हासिल की। आपको बता कि  पिछले 13 सालों में भारत की टी20 में साउथ अफ्रीका के साथ सबसे बड़ी हार हुई है।

साउथ अफ्रीका ने टी20 सीरीज के आखिरी मुकाबले में कप्तान क्विंटन डिकॉक की तूफानी अर्धशतकीय पारी के दम पर भारत को 9 विकेट से हरा दिया। इस जीत में टीम के गेंदबाजों का भी शानदार योगदान रहा। साउथ अफ्रीकी गेंदबाजों ने पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम को महज 134 रन पर ही रोक दिया था।

साउथ अफ्रीका टीम ने सिर्फ 1 विकेट खोकर 16.5 ओवर में जीत का लक्ष्य हासिल कर लिया। कप्तान डिकॉक ने साउथ अफ्रीका की तरफ से 52 गेंद पर नाबाद 79 रन की मैच जिताउ पारी खेली। यह डिकॉक का सीरीज में लगातार दूसरा अर्धशतक था।

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच पहला टी20 मुकाबला साल 2006 में खेला गया था। साउथ अफ्रीका ने भारत के खिलाफ 6 जीत हासिल की है जिसमें से चार बार लक्ष्य का पीछा करते हुए मुकाबला अपने नाम किय है। इनमें से 2015 में धर्मशाला टी20 में 7 विकेट, कटक टी20 में 6 विकेट, सेंचुरियन टी20 में विकेट से साउथ अफ्रीका ने जीत हासिल की थी।

बैंगलुरू में भारतीय टीम को साउथ अफ्रीका से मिली 9 विकेट की हार उनके खिलाफ विकटों के लिहाज से सबसे बड़ी हार है। इससे पहले प्रोटियाज टीम ने भारत पर 2015 में 7 विकेट से जीत दर्ज की थी।


Follow @India71