देश से कितने मूल्य की संपत्ति लूटी गई इलका आंकड़ा निकालना मुश्किल : एस जयशंकर

भारत 2025 तक 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनने के लिए एड़ी-चोटी का बल लगा रहा है लेकिन क्या आपको मालूम है कि ब्रिटिश शासकों ने हमारे देश से कितने मूल्य की संपत्ति लूटी थी? आप इस आंकड़े की कल्पना भी नहीं कर सकते।

देश से कितने मूल्य की संपत्ति लूटी गई इलका आंकड़ा निकालना मुश्किल : एस जयशंकर
एस जयशंकर

भारत 2025 तक 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनने के लिए एड़ी-चोटी का बल लगा रहा है लेकिन क्या आपको मालूम है कि ब्रिटिश शासकों ने हमारे देश से कितने मूल्य की संपत्ति लूटी थी? आप इस आंकड़े की कल्पना भी नहीं कर सकते। ब्रिटिश शासक कॉलोनियल रूल के दौरान भारत से वर्तमान वैल्यू में 45 ट्रिलियन डॉलर की संपत्ति लेकर गए थे। यह जानकारी विदेशी मंत्री एस जयशंकर ने दी है। उन्होंने वाशिंगटन में अटलांटिक काउंसिल इन वाशिंगटन डीसी को संबोधित करते हुए यह बात कही। अपने संबोधन के दौरान उन्होंने दुनिया के परिप्रेक्ष्य में भारत के हालात के बारे में चर्चा की। 

जयशंकर ने कहा कि ब्रिटिश भारत में 18वीं शताब्दी के मध्य में आए थे। एक आर्थिक अध्ययन में यह समझने की कोशिश की गई थी कि ब्रिटिश भारत से कितनी संपत्ति लेकर गए थे। इस अध्ययन में यह निष्कर्ष निकला कि ब्रिटिश शासकों ने भारत से 45 ट्रिलियन डॉलर की संपत्ति लूटी थी।

विदेश मंत्री ने कहा कि भारत ने ब्रिटेन के औपनिवेशिक शासन के दौरान लगातार दो सदियों तक 'अपमान' झेला

उन्होंने कहा, ''भारत ने दो सदियों तक पश्चिम की ओर से किये गए अपमान को सहा है, जो भारत में 18वीं शताब्दी के मध्य में आए थे। इस बारे में एक आर्थिक अध्ययन किया गया, जिसके मुताबिक ब्रिटिश भारत से आज के मूल्य के हिसाब से 45 ट्रिलियन डॉलर की संपत्ति लेकर गए थे।''

विदेश मंत्री का यह बयान ऐसे समय में आया है जब भारत अपनी आजादी 73वें साल में प्रवेश कर चुका है लेकिन आज भी देश की इकोनॉमी तीन ट्रिलियन डॉलर के आसपास की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार दूसरे कार्यकाल मिलने के बाद से 2025 तक देश को पांच ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने के लिए लगातार कोशिशों में लगी है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने चालू वित्त वर्ष के बजट के दौरान इस लक्ष्य को रखा था। प्रधानमंत्री मोदी खुद कई बार इस बात को कह चुके हैं। 


Follow @India71