रोहित शर्मा का बल्ला सिर्फ इन दिनों जमकर आग उगल रहा

टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा की मौजूदा फॉर्म किस स्तर पर है, ये किसी से छिपा नहीं है। ऐसा भी नहीं है कि रोहित शर्मा का बल्ला सिर्फ इन दिनों जमकर आग उगल रहा है।

रोहित शर्मा का बल्ला सिर्फ इन दिनों जमकर आग उगल रहा
रोहित शर्मा

टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा की मौजूदा फॉर्म किस स्तर पर है, ये किसी से छिपा नहीं है। ऐसा भी नहीं है कि रोहित शर्मा का बल्ला सिर्फ इन दिनों जमकर आग उगल रहा है। दरअसल, हिटमैन पिछले 6 साल से ज्यादा समय से तूफान मचाए हुए हैं। रोहित शर्मा के नाम इस समय वनडे और टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट के कई ऐसे वर्ल्ड रिकॉर्ड हैं, जिन्हें तोड़ पाना काफी कठिन है।

रोहित शर्मा  दाएं हाथ के बल्लेबाज हैं, जिन्होने आज ही के दिन साल 2014 में वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट की सबसे बड़ी पारी खेलकर इतिहास रचा था। रोहित शर्मा ने 13 नवंबर 2014 को श्रीलंका के खिलाफ कोलकाता के ईडन गार्डेंस के मैदान पर वनडे इंटरनेशल मैच में 264 रन की पारी खेली थी, जो कि वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट के इतिहास का आज तक सबसे बड़ा निजी स्कोर है।

साल 2014 में नवंबर के महीने में श्रीलंका की टीम भारत दौरे पर पांच मैचों की वनडे सीरीज खेलने आई थी। कप्तान विराट कोहली की अगुवाई में भारतीय टीम ने लगातार तीन मैच जीतकर सीरीज अपने नाम कर ली। उधर, चोट से उबरने के बाद चौथे टेस्ट मैच में रोहित शर्मा को मौका मिला। इसी मैच में रोहित शर्मा ने दोहरा शतक ठोककर इतिहास रच दिया। हालांकि, इससे पहले भी वे डबल सेंचुरी जड़ चुके थे।

14 नवंबर को भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी। अजिंक्य रहाणे के साथ रोहित शर्मा ओपनिंग करने के लिए मैदान पर आए। करीब तीन महीने के ब्रेक के बाद वापसी कर रहे रोहित शर्मा ने 100 गेंदों में एक नपा-तुला शतक ठोका। इसके बाद टीम के स्कोर और रन गति को बढ़ाते हुए उन्होंने चौके-छक्के लगाने शुरू कर दिए, जो थमने का नाम नहीं लिए।

देखते ही देखते रोहित शर्मा ने 150 और फिर 200 रन बना डाले। दूसरा शतक रोहित ने महज 51 गेंदों में पूरा कर लिया। इसके अलावा आखिरी के 64 रन हिटमैन ने सिर्फ 22 गेंदों में बनाए। रोहित शर्मा ने इस मुकाबले में आखिरी गेंद पर आउट होने से पहले 173 गेंदों में 33 चौके और 9 छक्कों की मदद से 264 रन की पारी खेली जो अब तक या इससे पहले ही सबसे बड़ी  निजी पारी है।

वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर ने दोहरा शतक लगाने की परंपरा शुरू की। इस परंपरा को वीरेंद्र सहवाग और फिर रोहित शर्मा ने आगे बढ़ाया। रोहित शर्मा वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में ऑस्ट्रेलिया और दो बार श्रीलंका के खिलाफ दोहरा शतक जड़ चुके हैं। ऐसा करने वाले वे दुनिया के इकलौते बल्लेबाज हैं। कोई भी एक बार से ज्यादा में डबल सेंचुरी नहीं ठोक पाया है। 

इस सीरीज में कप्तानी करने वाले विराट कोहली ने मैच के बाद कहा था कि वे अपने बच्चों को बताएंगे कि जब रोहित शर्मा ने 264 रन की पारी खेली थी तो वे वहीं थे। गौरतलब है कि रोहित शर्मा और विराट कोहली उस समय मैदान के बीचों बीच थे और आखिरी तक बल्लेबाजी कर रहे थे। इसी बीच रोहित के बल्ले से 264 रन की पारी निकली थी। 


Follow @India71