सुप्रीम कोर्ट : तीन बड़े मुद्दो पर फैसला

सुप्रीम कोर्ट में आज तीन बड़े मुद्दो पर फैसला सुनाया जाएगा। आपको बता दे कि आज राफेल विमान सौदे, सबरीमाला विवाद और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के अवमानना मामले में फैसला सुनाया जाएगा।

सुप्रीम कोर्ट :  तीन बड़े मुद्दो पर फैसला
सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट में आज तीन बड़े मुद्दो पर फैसला सुनाया जाएगा। आपको बता दे कि आज राफेल विमान सौदे, सबरीमाला विवाद और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के अवमानना मामले में फैसला सुनाया जाएगा। राफेल विमान सौदे और सबरीमाला विवाद में दायर दी गई पुनर्विचार याचिका पर जहां सुप्रीम कोर्ट अपना फैसला सुनाएगी, वहीं पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के अवमानना मामले पर उच्चतम न्यायालय का निर्णय आएगा। पिछले कुछ दिनों में सुप्रीम कोर्ट में कुछ बड़े फैसल आए हैं। इन फैसलों में अयोध्या विवाद, कर्नाटक विधायक विवाद और सीजेआइ ऑफिस आरटीआइ के मामले पर फैसला सुना चुकी है।

राफेल सौदा मामले में मोदी सरकार को क्लीन चिट देने के पूर्व फैसले की समीक्षा की मांग वाली अजिर्यों पर कोर्ट फैसला देगा।

भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी द्वारा कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ दायर आपराधिक अवमानना याचिका पर भी फैसला आना है।

केरल के सबरीमाला मंदिर में सभी आयु की महिलाओं को प्रवेश की अनुमति देने के कोर्ट के फैसले पर पुनर्विचार याचिका पर फैसला।

सुप्रीम कोर्ट आज राफेल विमान सौदे मामले में दायर पुनर्विचार याचिका पर अपना फैसला सुनाएगा। फ्रांस से साथ किए गए इस समझौते में केंद्र सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे थे, जिसके बाद इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई थी। इसमें मामले की जांच, खरीदने की प्रक्रिया , पीएमओ के दखल पर सवाल खड़े किए गए थे। हालांकि राफेल मामले में सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में केंद्र सरकार को राहत दी थी।

इसके बाद मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी और वकील प्रशांत भूषण ने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर की। इस मामले में चीफ जस्टिस रंजन गोगौई, जस्टिस एस.के कौल, जस्टिस के.एम. जोसेफ की बेंच फैसला सुना रही है।

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ दायर किए गए अवमानना मामले में आज सुप्रीम कोर्ट अपना फैसला सुनाएगी। लोकसभा चुनावों के दौरान राफेल विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के एक विवादास्पद टिप्पणी की थी। राहुल गांधी ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट ने मान लिया है कि चौकीदार चोर है।

इसके बाद सुप्रीम कोर्ट में बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने याचिका दायर की थीष जिस पर कोर्ट फैसला सुनाने जा रही है।

केरल के प्रसिद्ध सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर सुप्रीम कोर्ट ने पिछले वर्ष फैसल सुनाते हुए 10 से 50 साल की महिलाओं को मंदिर में प्रवेश की इजाजत दे दी थी। कोर्ट के इस फैसले के खिलाफ कुल 65 याचिकाएं दायर की गई हैं। जिनमें 56 पुनर्विचार याचिका, 4 नई याचिकाएं और 5 ट्रांसफर याचिकाए हैं।

इस मामले की सुनवाई चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस आर.एफ.नरीमन, जस्टिस एएम खानविलकर, जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस इंदू मल्होत्रा कर रहे है। इस मामले में जजों की पीठ ने 6 फरवरी को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था।


Follow @India71